प्रधानमंत्री मुद्रा योजना

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 
Pradhan Mantri Mudra Yojana

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 अप्रैल 2015 को इसका उद्घाटन किया था। इस योजना के माध्यम से उद्यमियों (entrepreneur) को कम ब्याज दर पर 50 हजार से 10 लाख रुपए तक का ऋण (Loan) उपलब्ध कराया जाता है। छोटे व्यावसायिक संगठन, कंपनियां और व्यापारी भी इस योजना की मदद से अपने कारोबार का​ विकास और विस्तार कर सकते हैं। इस योजना को संक्षेप में ‘Mudra Yojana ‘के नाम से भी जाना जाता है।भारतीय युवाओं को आत्मनिर्भर (Self Depend) बनाने और छोटे कारोबारियों को और ताकत देने के लिए Pradhan Mantri Mudra Yojana की शुरुआत की गई है।

मुद्रा का पूरा नाम “Micro Units Development & Refinance Agency Limited (MUDRA)” है। यह दरअसल एक पुनर्वित्त (Refinance) संस्था है। यानी कि यह सीधे अपने लाभार्थियों (Beneficiaries) को न पैसा देती है, और न लेती है। बल्कि यह बैकों, गैर बैंकिंग वित्तीय संस्थानों (non banking financial institutions) या माइक्रोफाइनेंस संस्थाओं (Microfinance institutions-MFIs) आदि को इस योजना के लिए पैसा उपलब्ध कराती है। आवेदक को इसके लोन के लिए ”MUDRA” की बजाय इन्हीं संस्थाओं से संपर्क करना होता है। Loan जारी करने और वसूल करने की जिम्मेदारी उन्हीं के पास होती है।


Benefits Of Pradhan Mantri Mudra Yojana
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के फायदे

  • इस योजना से 50 हजार से 10 लाख रुपए तक का Loan मिल सकता है।
  • लोन बिना किसी गारंटी के मिल जाता है
  • लोन पर किसी तरह की Processing Fee नहीं लगती है।
  • मुद्रा लोन पर अन्य Bank Loan के मुकाबले कम ब्याज लगती है, और इसे आसान किस्तों (Installments) में एक समुचित समयावधि (time frame) में चुकाया जा सकता है। सामान्यत: यह 1 से 5 साल तक होती है।
  • अगर आप तय समय पर Loan  को चुकता नहीं कर पाते हैं तो उसे 5 साल आगे भी बढ़ाया जा सकता है।
  • मुद्रा लोन से जुड़ी एक और अच्छी बात यह है कि आपको मंजूर हुई Loan की पूरी रकम पर ब्याज नहीं लगता। सिर्फ उस Amount पर ब्याज लगता है, जो आपने Mudra Card के माध्यम से निकालकर खर्च कर दी है।
  • साझेदारी यानी Partnership में चल रहे Business के लिए भी मुद्रा योजना से लोन लिया जा सकता है।

No comments:

Post a Comment